इस क्रिकेटर ने कहा- दूसरा टेस्ट हारते ही Virat Kohli को कप्तानी से इस्तीफा दे देना चाहिए


February 10, 2021


इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर मोंटी पनेसर ने कहा है कि भारत अगर इंग्लैंड के खिलाफ शनिवार से शुरू होने वाला दूसरा टेस्ट मैच भी हार जाता है, तो विराट कोहली को कप्तानी से इस्तीफा दे देना चाहिए. कोहली की कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम लगातार चार टेस्ट मैच हार चुकी है. भारत को चेन्नई में मंगलवार को इंग्लैंड के खिलााफ 227 रन की हार मिली और इससे पहले, भारत को एडिलेड, क्राइस्टचर्च और वेलिंगटन में भी कोहली की कप्तानी में हार का सामना करना पड़ा था. इन हार के बाद अब कोहली की कप्तानी पर सवाल उठने लगे हैं.

पनेसर ने वियोन से कहा, “विराट कोहली अब तक के सबसे महान बल्लेबाजों में से एक हैं. लेकिन टीम अब उनकी कप्तानी में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रही है और हमारे पास कोहली की कप्तानी में खेले गए भारत के अंतिम चार टेस्ट मैचों के परिणाम हैं. मुझे लगता है कि कोहली अभी और दबाव में होंगे, क्योंकि रहाणे ने कप्तान के रूप में शानदार प्रदर्शन किया है.”

भारत को इंग्लैंड के साथ जारी चार मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा टेस्ट शनिवार से चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेलना है. इंग्लैंड ने पहला टेस्ट जीतकर सीरीज में 1-0 की बढ़त ले रखी है. इंग्लैंड से मिली हार से पहले भारत अपने घर में पिछले 14 टेस्ट मैचों से अजेय था.

उन्होंने कहा, “भारत पहले ही उनकी कप्तानी में चार टेस्ट मैच हार चुका है और अगर अगले मैच में यह संख्या पांच हो जाती है, तो मुझे लगता है कि कोहिली को अपने पद से हट जाना चाहिए.” 2012-13 में भारत दौरे पर 17 विकेट लेकर इंग्लैंड की ऐतिहासिक सीरीज जीत में योगदान देने वाले पनेसर ने साथ ही कुलदीप यादव की जगह शाहबाज नदीम को खेलाने के टीम प्रबंधन के फैसले की कड़ी आलोचना की.

कोहली की कप्तानी में भारत पिछले वर्ष न्यूजीलैंड दौरे पर गया था, जहां उसे दो मैचों की टेस्ट सीरीज में 0-2 से क्लीन स्वीप झेलना पड़ा था. इसके बाद हाल में ऑस्ट्रेलिया दौरे में एडिलेड में खेले गए पहले दिन-रात्रि टेस्ट में उसे आठ विकेट से पराजय मिली थी. हालांकि इसके बाद कोहली अपने पहले बच्चे के जन्म बाद स्वदेश लौट गए थे और उनकी गैरमौजूदगी में अजिंक्य रहाणे ने टीम की कमान संभाली थी.

रहाणे ने ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान तीन टेस्ट मुकाबलों में कप्तानी की थी, जिसमें भारत ने मेलबर्न टेस्ट जीता, जबकि सिडनी टेस्ट ड्रॉ रहा. इसके बाद ब्रिस्बेन में खेले गए अंतिम और चौथे मुकाबले में भारत को जीत मिली और उसने ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराया था. इंग्लैंड के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज के लिए कोहली की टीम में वापसी हुई और भारत को उनकी कप्तानी में एक बार फिर हार का सामना करना पड़ा.

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *