IND vs ENG: केविन पीटरसन ने हिंदी में ट्वीट कर भारतीय टीम को किया ट्रोल, कहा- पहले ही दी थी चेतावनी


February 9, 2021

IND vs ENG 1st Test: चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट में इंग्लैंड ने भारत को 227 रनों से हरा दिया. पिछले 9 सालों में भारतीय सरज़ीमन पर इंग्लैंड की यह तीसरी जीत है. इस जीत के साथ ही मेहमान टीम चार मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त भी बना ली. इंग्लैंड की इस शानदार जीत के बाद पूर्व दिग्गज बल्लेबाज़ केविन पीटरसन ने हिंदी में ट्वीट कर भारतीय टीम को ट्रोल किया है.

केविन पीटरसन ने हिंदी में ट्वीट कर कहा, “इंडिया याद है, मैंने पहले ही चेतावनी दी थी कि इतना जश्न ना मनाएं. जब आपने ऑस्ट्रेलिया को उनके घर पर हराया था.”

36 साल बाद इंग्लैंड ने भारत को चेन्नई में हराया

इंग्लैंड ने इससे पहले चेन्नई के मैदान पर भारत को 1985 में हराया था. उसके बाद से चेपॉक में दोनों टीमों के बीच तीन टेस्ट खेले गए थे, लेकिन हर बार बाज़ी टीम इंडिया ने मारी थी. आखिरी बार भारत और इंग्लैंड इस मैदान पर 2016 में आमने-सामने आए थे. उस मैच को टीम इंडिया ने पारी और 75 रन से जीता था.

22 साल बाद चेन्नई में हारा भारत

चेन्नई में टीम इंडिया की पिछले 22 सालों में यह पहली हार है. इससे पहले एमए चिदंबरम स्टेडियम में भारत को 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था. उसके बाद इंडिया इस मैदान पर एक भी टेस्ट नहीं हारा था.

इस तरह इंग्लैंड ने जीता पहला टेस्ट

चेपॉक टेस्ट की पहली पारी में इंग्लैंड ने 578 रन बनाने के बाद भारत को उसकी पहली पारी में 337 रनों पर समेट दिया था. हालांकि, पहली पारी में 241 रनों की विशाल बढ़त हासिल करने के बाद इंग्लिश टीम दूसरी पारी में सिर्फ 178 रनों पर ढ़ेर हो गई थी. इस तरह इंग्लैंड ने भारत को 420 रनों का लक्ष्य दिया था. इसके जवाब में टीम इंडिया दूसरी पारी में इंग्लैंड के जैक लीच और जेम्स एंडरसन के सामने ताश के पत्तों की तरह बिखर गई. दूसरी पारी में भारत के लिए कप्तान विराट कोहली ने सबसे ज्यादा 72 रन बनाए. वहीं युवा शुभमन गिल ने 50 रनों की पारी खेली. वहीं इंग्लैंड के लिए जैक लीच ने सबसे ज्यादा चार विकेट लिए. वहीं तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन को तीन सफलता मिलीं.

यह भी पढ़ें- 

विराट कोहली की कप्तानी में लगातार चौथा टेस्ट हारा भारत, हैरान करने वाले हैं आंकड़े

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *