IND vs ENG: 2017 के बाद पहली बार घर में हारा भारत, चार साल पहले इस टीम ने दी थी मात


February 9, 2021

IND vs ENG: चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट में इंग्लैंड ने भारत को 227 रनों से हरा दिया. घर में 2017 के बाद टीम इंडिया की यह पहली हार है. दूसरी पारी में इंग्लैंड ने भारत के सामने 420 रनों का लक्ष्य रखा था. इसके जवाब में भारतीय टीम 192 रनों पर ऑल आउट हो गई. इंग्लैंड के लिए जैक लीच ने सबसे ज्यादा चार विकेट लिए. वहीं तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन को तीन सफलता मिलीं.

2017 के बाद पहली बार घर में हारा भारत

इससे पहले भारत को उसके घर में फरवरी 2017 में ऑस्ट्रेलिया ने हराया था. दरअसल, ऑस्ट्रेलियाई टीम 2017 में चार मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए भारत दौरे पर आई थी. इस सीरीज का पहला टेस्ट 23 से 27 फरवरी के बीच पुणे में खेला गया था, जिसे ऑस्ट्रेलिया ने 333 रनों से जीता था. इसके बाद से इंडिया ने घर में 14 टेस्ट खेले, जिसमें उसे 11 मैचों में जीत मिली थी. वहीं तीन टेस्ट ड्रॉ रहे थे.

चार साल बाद दोनों पारी में ऑल आउट हुई टीम इंडिया

भारतीय टीम इससे पहले फरवरी 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घर में खेलते हुए आखिरी बार दोनों पारियों में ऑल आउट हुई थी. उस वक्त इंडिया पहली पारी में 105 और दूसरी पारी में 107 रनों पर ढ़ेर हो गया था. वहीं इंग्लैंड के खिलाफ इस टेस्ट में भारत पहली पारी में 337 और दूसरी पारी में सिर्फ 192 रनों पर ऑल आउट हो गया.

लगातार 11 जीत के बाद भारत को मिली हार

गौरतलब है कि घर में खेलते हुए भारत ने लगातार 11 टेस्ट जीते थे. हालांकि, इस बीच तीन टेस्ट ड्रॉ भी रहे थे. ऑस्ट्रेलिया ने एक और श्रीलंका ने दो टेस्ट भारतीय सरज़मीन पर ड्रॉ कराए थे. इस हार से पहले भारत ने घर में लगातार चार टेस्ट पारी और रनों के अंतर से जीते थे.

2012 के बाद इंग्लैंड ने भारत में जीता तीसरा टेस्ट

2012 से भारतीय टीम घर में सिर्फ चार टेस्ट हारी है. दिलचस्प बात यह है कि इसमें तीन बार उसे इंग्लैंड ने और एक बार ऑस्ट्रेलिया ने हराया है. फरवरी 2017 में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को उसके घर में 333 रनों से हराया था. वहीं नवंबर 2012 और दिसंबर 2012 में इंग्लैंड ने भारत को उसकी सरज़ीमन पर हराया था. नवंबर 2012 में वानखेड़े स्टेडियम में इंग्लैंड ने भारत को 10 विकेट से मात दी थी. वहीं दिसंबर 2012 में इंग्लैंड ने ईडन गार्डन्स में भारत को सात विकेट से हराया था.

यह भी पढ़ें- 

India vs England: 36 साल बाद इंग्लैंड ने भारत को चेन्नई में दी मात

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *